15+ Tips SEO Friendly Article Kaise Likhe [Beginner To Advance]

How to SEO friendly article kaise likhe - SEO tips (beginner to advance)

क्या आप अपने ब्लॉग के लिये SEO Friendly Article लिखना चाहते है?

लेकिन, क्या आपको पता हैं कि ब्लॉग के लिये SEO friendly article kaise likhe जाते है या SEO-Optimized content कैसे बनाये जाते है और यह किसी भी ब्लॉगर के लिए इतना ज्यादा क्यों जरूरी हैं?

अगर आपके मन में भी यही सवाल है तो आप बिलकुल सही जगह आये हैं।

अपने ब्लॉग या वेबसाइट के लिये आर्टिकल तो कोई भी लिख सकता हैं लेकिन सफल वही होता हैं जिसे लिखने की कला आती हो और SEO friendly article लिखने का अभ्यास करता हो और यही एक professional blogger की पहचान होती हैं।

इस पोस्ट में, मैं आपको एकदम genuine तरीका बताऊँगा जिससे आप अपने ब्लॉग के लिए ऐसे SEO content बना सकते हैं जो आपके users और इंटरनेट के द्वारा आपके ब्लॉग में आने वाले पाठको को पसंद आएंगे और user engagement बढ़ाने में भी मदद करेंगे।

तो चलिए, बिना समय व्यर्थ किये ब्लॉग पोस्ट को SEO friendly post में बदलने चलते हैं।

अपने ब्लॉग के लिए SEO Friendly Article Kaise Likhe?

हमने आपको पिछली किसी पोस्ट में बताया था कि ब्लॉग यदि शरीर है तो SEO उसकी जान और बिना SEO के आपका ब्लॉग गूगल में कभी रैंक नही करेगा।

आपको बता दे SEO का फुल फॉर्म Search Engine Optimization होता हैं

आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने के लिए रात दिन तरह तरह की कोशिश किया करते हैं और आर्टिकल को quality content, बढ़िया heading, छोटे पैराग्राफ के साथ बनाते है लेकिन फिर भी आपकी पोस्ट गूगल के 4 – 5 पेज पर पड़ी रहती हैं।

ये एक ब्लॉगर के लिए बहुत बुरा है ना?

यदि आप सच में seo friendly blog post बनाने को लेकर उत्साहित हैं तो नीचे बताए जा रहे सभी स्टेप्स को बारीकी से समझियेगा।

तो चलिए इसी बुरे रिजल्ट को unique content में बदलकर अच्छा रिजल्ट बनाते हैं।

1. पोस्ट लिखने से पहले (Keyword Research)

किसी भी ब्लॉग पोस्ट को लिखने से पहले Keyword Research करना बहुत जरूरी हैं.

यदि आप अपने पाठकों (Readers) के लिए बिना कीवर्ड रिसर्च के ब्लॉग पोस्ट लिख रहे हैं तो आप अंधेरे में तीर चलाने जा रहे हैं।

Keyword रिसर्च ही आपके ब्लॉग पोस्ट का निर्णय करती हैं कि वह पोस्ट गूगल में रैंक करेगी अथवा नहीं।

अब आपके मन मे ये सवाल आ रहा होगा कि कीवर्ड क्या है?

इसका सीधा सा जवाब हैं, गूगल में आप जो कुछ भी type करके सर्च करते हैं वह कीवर्ड कहलाता हैं।

उदाहरण के लिए जैसे आप गूगल में सर्च करते हैं ब्लॉग कैसे बनाये यही कीवर्ड हैं।

अब आपके में यह सवाल भी आ रहा होगा कि ब्लॉग पोस्ट के लिये कीवर्ड रिसर्च कहाँ से करे? तो इसके लिये बहुत सारे free keyword research tools हैं जिनसे आप फ्री में कीवर्ड ढूंढ सकते हैं।

आप free keyword research tools की पोस्ट को पढ़ के बहुत ही आसानी से कीवर्ड को ढूंढ सकते है।

2. Keyword को Blog Title में Use करे

आप जिस title पर ब्लॉग पोस्ट लिख रहे हैं उसमें अपना focus keyword का जरूर उपयोग करें.

ब्लॉग पोस्ट के title में focus keyword के इस्तेमाल करने पर सर्च इंजन को यह आसानी से पता चल जायेगा कि आप किस कीवर्ड को गूगल में रैंक कराना चाहते हैं।

उदाहरण के लिए, आप स्क्रीनशॉट को देखे।

Focus Keyword In Blog Title - SEO friendly article kaise likhe
Must Use Focus Keyword in your Blog Title

स्क्रीनशॉट में आप देख सकते हैं कि इन ब्लॉगर ने कैसे अपने पोस्ट के title में focus keyword का इस्तेमाल किया हैं।

Bonus Post:

3. ब्लॉग पोस्ट के 1st पैराग्राफ में Keyword का उपयोग करे

ब्लॉग पोस्ट को SEO friendly content बनाने के लिए कीवर्ड का इस्तेमाल करना अच्छे से आना चाहिए, एक बार आप कीवर्ड्स को अपनी पोस्ट में implement करना सीख गए तो 50% आर्टिकल आपका SEO फ्रेंडली बन जायेगा।

इसलिए अपने ब्लॉग पोस्ट के 1st पैराग्राफ में main keyword का उपयोग जरूर करें।

चलिये आपको कुछ स्क्रीनशॉट दिखाता हूँ जिसमे आप देखेंगे कि बड़े ब्लॉगर कैसे अपनी पोस्ट के 1st paragraph में main keyword का इस्तेमाल करते हैं।

Main Keyword put in 1st paragraph
Main Keyword put in 1st paragraph

अगर आप स्क्रीनशॉट को ध्यान से देखेंगे तो ब्लॉग के title में “फ्री ब्लॉग और वेबसाइट कैसे बनायें” और पोस्ट के 1st पैराग्राफ में भी इसी कीवर्ड का इस्तेमाल हुआ हैं।

Pro Tip: शुरू में पोस्ट के 100 words के अंदर और last paragraph में 1 कीवर्ड को जरूर डालना चाहिये।

4. Long Article लिखे

अपने आर्टिकल को SEO optimized कंटेंट बनाने के लिए उस article की length सर्च इंजन में बहुत matter करता है।

एक रिसर्च के अनुसार, जो ब्लॉगर अपनी पोस्ट की length(लंबाई) को यानी long आर्टिकल लिखते हैं उनकी पोस्ट गूगल में जल्दी रैंक करती हैं।

अब आपके मन में यह सवाल जरूर आ रहा होगा कि ब्लॉग पोस्ट को कितने word तक लिखने चाहिये? सही कहा न मैंने!

तो देखिए, ब्लॉग पोस्ट कितने word का होना चाहिए! ये आपके पोस्ट के टॉपिक के ऊपर depend करता हैं।

लेकिन,

अगर हम average word की बात करें तो एक रिसर्च के अनुसार अगर आप एक long आर्टिकल लिख रहे हैं तो उस पोस्ट में कम से कम 2182 word होने चाहिए।

लेकिन ये जरूरी नही कि हर एक पोस्ट को long article में ही लिखा जाए, क्योंकि long article, topic को सेलेक्ट करने के बाद ही लिखे जाते हैं।

कहने का मतलब यह हैं आप जिस मकसद से ब्लॉग पोस्ट लिख रहे है अगर वह पोस्ट आपके हिसाब से पूरी हो जाती है तो जरूरत से ज्यादा उस आर्टिकल को लंबा न करे क्योंकि बेवजह शब्दों से आपका कंटेंट low quality का हो जाता हैं।

Long Article Kaise Likhe?

मुझे यकीन है कि अब आप थोड़ा सा confused हो रहे होंगे कि long article कैसे लिखें?

जिस तरह ब्लॉग पोस्ट को लिखने से पहले कीवर्ड रिसर्च करना जरूरी है ठीक उसी प्रकार, आर्टिकल लिखने से पहले उस पोस्ट का structure बनाना बहुत जरूरी हैं।

  • सबसे पहले आप keyword रिसर्च करे।
  • उस keyword को जिस पर आप ब्लॉग पोस्ट लिखने वाले है उसे गूगल में सर्च करके उसका analysis करे।
  • Notepad में या किसी डायरी में चुने हुए keywords को लिखे।
  • उसके बाद खुद से यह सेलेक्ट करे कि आपको अपनी ब्लॉग पोस्ट में कौन-कौन से पॉइंट्स को शामिल करने हैं।
  • अब आपका article structure तैयार है और अब आप long article लिख सकते हैं।

इससे आपका कंटेंट कभी low quality का नही होगा और पढ़ने वाले readers को बोरियत भी महसूस नही होगी और आपका कंटेंट भी seo friendly बन जायेगा।

5. Post URL(Permalink) को SEO Friendly URL बनायें

अपने ब्लॉग के पोस्ट को SEO Friendly Article बनाने के लिए पोस्ट का URL सर्च इंजन में बहुत बड़ी भूमिका निभाता हैं।

यदि आपके पोस्ट का URL SEO फ्रेंडली नही हुआ तो आपकी पोस्ट सर्च इंजन में SEO Optimized नही मानी जायेगी।

आपका ब्लॉग चाहे Blogger Platform या WordPress प्लेटफार्म में बना हुआ हो, उसमें पोस्ट लिखते वक़्त पोस्ट का URL ऑटोमैटिक default URL बन जाता है जो कि SEO user फ्रेंडली नही होता, इसलिए default URL की जगह Short URL बनाना चाहिए।

चलिये आपको उदाहरण देकर समझाते हैं, मान लीजिये कि आपके पोस्ट का title है Google Ka Full Form Kya hai – Google ki Khoj Kisne Ki” और आपने “Google Ka Full Form” कीवर्ड को target किया हैं तो ब्लॉग पोस्ट का URL इस तरह होना चाहिए

https://shubhworld.com/google-ka-full-form

यह एक परफेक्ट SEO friendly URL हैं।

हमें कभी भी ब्लॉग पोस्ट के URL को long नही रखना हैं केवल Target Keyword को ही URL में इस्तेमाल करना हैं।

चलिये आपको SEO unfriendly URL और SEO friendly URL दिखाते हैं।

SEO Unfriendly URL (Bad URL)

https://shubhworld.com/blog-kaise-banaye-blog-banane-ki-puri-jankari-hindi-me

SEO Friendly URL (Perfect URL)

https://shubhworld.com/blog-kaise-banaye

स्क्रीनशॉट को भी ध्यान से देखिए।

SEO Friendly URL Kaise Banaye - SEO friendly article (Basic to advance guide)
SEO Friendly Post URL

इस प्रकार आप short यूआरएल बनाकर पोस्ट के URL को seo फ्रेंडली बना सकते हैं जिसे गूगल या अन्य सर्च इंजन भी पसंद करते हैं।

6. Image Alt Tag

ब्लॉग में इमेज का इस्तेमाल करने से पोस्ट में चार चांद लग जाते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि ब्लॉग पोस्ट में इमेज को भी seo optimized करना बहुत जरूरी है।

ऐसे बहुत से ब्लॉगर है जिन्होंने अभी-अभी ब्लॉग बनाया है और उन्हें नही पता होता कि इमेज का भी SEO ऑप्टिमाइजेशन किया जाता है।

एक प्रोफेशनल ब्लॉगर केवल पोस्ट लिखने से ही नही बल्कि image से भी पूरी पोस्ट की detail दे सकता हैं।

Image Optimize कैसे करें

अगर आप भी image के द्वारा ट्रैफिक लाना चाहते है तो आपको अपनी पोस्ट में इस्तेमाल की गई इमेज में Alt Tag का इस्तेमाल करना होगा।

Google या अन्य सर्च इंजन image को read नही कर सकता

  • गूगल image को नही बल्कि Text के द्वारा image को read करता हैं।

ऐसे बहुत से ब्लॉगर हैं जो अपने ब्लॉग पोस्ट में image.0012 जैसे नामो वाली फ़ोटो को अपलोड करते हैं जो कि यह बहुत बड़ी गलती करते हैं।

जब आप ब्लॉग पोस्ट के लिए image बनाते है या किसी फ़ोटो का स्क्रीनशॉट लेते हैं तब सबसे पहले उस फ़ोटो के नाम को टॉपिक के अनुसार बदलना चाहिए।

उदाहरण के लिए, आप भारत के सबसे अमीर आदमी के ऊपर एक पोस्ट लिख रहे है और आपने अनिल अंबानी की फ़ोटो का स्क्रीनशॉट लिया तब आप उस फ़ोटो को Rename करके अनिल अंबानी भारत के सबसे अमीर आदमी title में लिखेंगे उसके बाद अपलोड करेंगे।

इमेज को पोस्ट में अपलोड करने के बाद उस image को सेलेक्ट करके Alt Tag वाले ऑप्शन पर Keyword जरूर डाले जिससे गूगल को पता चल जाएगा कि इस्तेमाल की गई इमेज किस टॉपिक पर हैं।

इस तरह, जब लोग गूगल में आपकी पोस्ट से related image को ढूंढते हैं, तो आपके द्वारा अपलोड की गई image के द्वारा आपकी वेबसाइट में भी आ जाते हैं जिससे आपके ब्लॉग का ट्रैफिक भी बढ़ने लगता हैं।

इसलिए image के alt tag में कीवर्ड जरूर डालने चाहिए।

Bonus Post:

7. Heading और Sub-Heading का उपयोग करें

ब्लॉग पोस्ट को यूजर फ्रेंडली बनाने के लिए, Heading और subheading का use करना अच्छी तरह से आना चहिये क्योंकि Heading से ही आपके ब्लॉग में आने वाले visitor को पता चलता हैं कि आप असल में कहना क्या चाहते हैं।

लेकिन Heading के साथ subheading का इस्तेमाल करना भी एक कला हैं, blogger और wordpress में H1 से H6 तक हैडिंग होती हैं जिन्हें आपको अच्छे से use करना आना चाहिए।

चलिये आपको उदाहरण देकर समझाता हूँ।

मैं assume कर लेता हूँ कि आप A2 hosting Review in Hindi पर ब्लॉग लिख रहे हैं तो आप इस तरह हैडिंग का इस्तेमाल करेंगें।

H1. A2 Hosting Review in Hindi | A2 Hosting Kaise Kharide

  • H2: A2 Hosting Kya Hai
  • H3: A2 Hosting Overview
  • H3: A2 Hosting Ke Pros और Cons
  • H3: A2 Hosting Review

H2: A2 Hosting कैसे खरीदे

  • H3: A2 hosting discount code
  • H3: A2 होस्टिंग खरीदे Step by step

इस तरह से आपको अपने कंटेंट में heading और subheading का इस्तेमाल करना चाहिए।

8. Blog Post Title

इस पॉइंट को मैं ब्रह्मास्त्र की संज्ञा दूंगा क्योंकि ये SEO friendly article से related एक ऐसा पॉइंट हैं जिससे लोग आकर्षित होकर ही आपके ब्लॉग पोस्ट में visit करते हैं

लेकिन,

आगे बढ़ने से पहले क्या आपको पोस्ट Title और Meta title के बारे में पता हैं?

तो सबसे पहले, हम Post Title और Meta Title में अंतर को अच्छे से समझ लेते हैं।

  • Post Title: पोस्ट title आपकी main heading होती है जिसे ऑनलाइन विज़िटर आपके ब्लॉग पर पोस्ट का title देखते है उदाहरण के लिए: Best Free Blogger Templates
  • Meta Title: Meta Title को सर्च इंजन देखता हैं और सर्च इंजन ही decide करता हैं कि वह लोगो को कैसे meta title दिखायेगा।

इसलिए ब्लॉग पोस्ट का शीर्षक meta title के अनुसार लिखना चाहिए यानी title को user friendly बनाना चाहिए जिससे सर्च इंजन आपकी पोस्ट को value दे सके।

Title को User Friendly कैसे बनायें

  • ब्लॉग title में main keyword जरूर डाले।
  • ब्लॉग शीर्षक में पॉवर शब्दो का इस्तेमाल करें जैसे: Best, Top, Awesome, Most इत्यादि।
  • Long Tail कीवर्ड का इस्तेमाल करें।
  • Title में पावर शब्दों के साथ नंबर का इस्तेमाल करें जैसे: Best 9, Top 20 इत्यादि।

Pro Tip: सर्च इंजन 66 to 70 वर्ड के अंदर वाले शीर्षक को यूजर फ्रेंडली मानता हैं इसलिए ब्लॉग का title 66 शब्दों के अंदर focus keyword के साथ लिखना चाहिए।

9. Post Meta Description

Post Meta description - SEO Friendly article

Meta Description सर्च इंजन रैंकिंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं। इसलिए जब भी पोस्ट लिखे, मेटा डिस्क्रिप्शन जरूर लिखे।

डिस्क्रिप्शन जितना eye catchy होगा, विजिटर आपके ब्लॉग में उतने ज्यादा ही आएंगे।

  • आपकी पोस्ट किस टॉपिक के बारे में है, इसका छोटा सा सारांश आपको meta description में 156 to 160 वर्ड के बीच मे लिखना होता हैं।
  • पोस्ट के focus keyword को meta description में जरूर include करे।

गूगल आपकी हर एक पोस्ट पर नजर रखता हैं इसलिए यदि आपने अभी तक मेटा description नही लिखा हैं तो लिखना शुरू कर दे क्योंकि 70% ट्रैफिक पोस्ट के description की वजह से ही आता है।

10. Internal linking और External Linking

क्या आप Internal Linking और External Linking के बारे में जानते है?

चलिये पहले हम Internal Linking और external linking में अंतर समझ लेते हैं।

  • Internal Linking: यह आपके पोस्ट के लिंक होते हैं जिन्हें आप अपनी नई पोस्ट लिखते वक़्त पुरानी पोस्ट के URL को शामिल करते हैं।

उदाहरण के लिए, आपने अपने ब्लॉग में 4 से 5 आर्टिकल पब्लिश किये और अब कोई नया आर्टिकल लिखने जा रहे हैं तो उस आर्टिकल में आप अपने पुराने पोस्ट के url को भी include कर रहे है, यही internal लिंकिंग कहलाता है।

Internal Linking के फ़ायदे

Internal linking का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपकी पुरानी पोस्ट नई पोस्ट के साथ Crawl होती रहती हैं और आपके यूजर 1 पोस्ट से दूसरी पोस्ट में विजिट करते हैं इससे आपका bounce rate भी कम होगा।

  • External Link: यह वो लिंक होते हैं जिन्हें हम अपनी पोस्ट में किसी अन्य वेबसाइट के पोस्ट के लिंक को add करते है।

उदाहरण के लिए, यदि आप Adsense से related कंटेंट लिख रहे हैं और इसी पोस्ट में आपने मेरी पोस्ट का लिंक जो कि fast adsense approval से related ही है, का लिंक आपने अपनी पोस्ट में दिया तो यह external linking कहलाता हैं।

External Linking के फ़ायदे

External linking करने से आपकी पोस्ट की वैल्यू बढ़ जाती हैं क्योंकि गूगल आपकी पोस्ट को crawl करते वक़्त ये भी समझेगा कि आप अपने यूजर को बहुत ही deeply जानकारी दे रहे हैं और कितने विश्वासपात्र हैं।

बहुत से ब्लॉगर किसी अन्य वेबसाइट के लिंक को अपनी पोस्ट में add करना पसंद नही करते जबकि यह गलत हैं।

इसलिए यदि आप अपने ब्लॉग पोस्ट को seo friendly article बनाना चाहते हैं तो internal linking के ‌साथ external linking भी जरूर करनी चाहिए।

11. Keyword Stuffing

अपनी पोस्ट को गूगल में रैंक कराने के लिए Keyword का इस्तेमाल करना अच्छी आदत है, लेकिन यदि आप जरूरत से ज्यादा पोस्ट में main keyword का इस्तेमाल करते हैं तो यह Keyword stuffing बन जाता हैं।

बहुत से ब्लॉगर को मैंने देखा है वो अपनी पोस्ट में जरूरत से ज्यादा कीवर्ड का इस्तेमाल करते हैं।

उदाहरण के लिए, ब्लॉग कैसे बनाये कीवर्ड को पोस्ट में जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करना keyword stuffing कहलाता हैं, इससे पोस्ट का अर्थ बेमतलब हो जाता है और पढ़ने वाला आपकी साइट से दूसरी साइट पर विजिट करने चला जाता हैं.

इसलिए ब्लॉग पोस्ट में Keyword की density .50% se 1.5% तक ही रखनी चाहिए क्योंकि यह पोस्ट ऑप्टिमाइजेशन के लिए बेस्ट हैं।

12. LSI Keyword का इस्तेमाल करें

SEO friendly article बनाने के लिए अपने आर्टिकल में केवल focus keyword ही नही बल्कि LSI कीवर्ड का यूज़ करना चाहिए क्योंकि आपकी पोस्ट गूगल में focus keyword से ही नहीं बल्कि LSI keyword से भी रैंक होती हैं।

LSI Keyword का फुल फॉर्म Latent Semantic Indexing होता हैं।

LSI Keyword क्या हैं?

किसी भी मुख्य शब्द के मिलते-जुलते वर्ड को LSI कीवर्ड कहते हैं।

उदाहरण के लिए,

  • ब्लॉग क्या हैं (Main Keyword)
  • ब्लॉग क्या होता हैं (LSI Keyword)
  • ब्लॉग कैसे बनाते हैं (LSI Keyword)

LSI Keyword को कैसे ढूंढते है?

आप गूगल की सहायता से LSI keyword को बहुत ही आसानी से ढूंढ सकते हैं।

आप जब भी गूगल के सर्च बॉक्स में कुछ टाइप करते हैं तब गूगल हमें ऑटोमैटिक उसी टॉपिक से रिलेटेड हमें keyword show कराता हैं।

Find LSI Keyword - SEO friendly article kaise likhe
Find LSI Keyword on Google

यदि आप LSI Keyword को find करने के लिए किसी टूल की सहायता लेना चाहते हैं तो आप LSI Graph टूल से भी free में LSI keyword find कर सकते हैं।

13. Short Paragraph का यूज़ करें

Short पैराग्राफ में लिखे गए आर्टिकल ब्लॉग रीडर्स के लिए हमेशा बढ़िया experiense देते हैं।

ब्लॉग रीडर्स भी आपके ब्लॉग पोस्ट को तभी पढ़ना पसंद करेंगे जब आप उन्हें पूरी जानकारी अच्छे तरीके से देंगे।

इसलिए यदि आप अपने यूजर के साथ यूज़र इंगेजमेंट बढ़ाना चाहते हैं तो अपनी पोस्ट में short paragrapah का इस्तेमाल करें इससे आपके रीडर्स आपकी पोस्ट को पढ़ना पसंद करेंगे जिससे आपके ब्लॉग का बाउंस रेट भी कम होगा और आपका आर्टिकल SEO friendly भी बनेगा।

14. आर्टिकल में Bold और Italic का इस्तेमाल करें

कंटेंट को ऑप्टीमाइज़्ड करने के लिए आर्टिकल में bold, italic और Underline का भी इस्तेमाल करना चाहिए।

आर्टिकल में bold, italic का इस्तेमाल कीवर्ड या उससे रिलेटेड sentence को किया जाता हैं ताकि सर्च इंजन को ये पता लग सके कि आप किस वर्ड को target कर रहे हैं।

अगर आप मेरी पोस्ट को पढ़ रहे है तो आप पाएंगे कि मैंने इस आर्टिकल में bold, italic का इस्तेमाल किया हुआ हैं।

Pro Tip: आर्टिकल में 3 से 4 कीवर्ड को ही bold और italic करे, जरूरत से ज्यादा करने पर पोस्ट useless लगती है। कीवर्ड के अलावा अन्य महत्वपूर्ण लाइन को भी bold,italic और underline कर सकते है।

15. Blog Post का Intro Eye Catchy बनाएं

आर्टिकल short हो या long, शुरू की 2 लाइन ही आपके रीडर्स को बता देगी कि आपकी पोस्ट उनके काम की है या नही।

एक अध्ययन के अनुसार, जो ब्लॉगर आर्टिकल में शुरू के पैराग्राफ में रीडर्स को अपनी ओर आकर्षित कर लेते हैं उनका लिखना सफल हो जाता हैं और रीडर्स आपकी लिखी गयी पोस्ट को पूरा पढ़ते भी हैं।

इसलिये यदि आप भी अपने कंटेंट को SEO friendly article बनाकर यूजर इंगेजमेंट बढ़ाना चाहते है तो जब भी अपनी पोस्ट को लिखे, शुरू की लाइन को eye catchy बनाये ताकि आपका कंटेंट रीडर्स को useless न लगे और आपकी पोस्ट को पढ़ने के लिए मजबूर हो जाये।

Final Word (SEO friendly article Kaise Likhe)

तो ये थे वो Best 15 tips जिनसे आप अपनी पोस्ट को SEO friendly बना सकते हैं।

मैंने वो सारे टिप्स इस पोस्ट में share किये हैं जो नार्मल पोस्ट को seo friendly post बनाने में किये जाते हैं.

मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको 15 Tips SEO Friendly Article Kaise Likhe [Beginner To Advance] आर्टिकल जरूर पसंद आया होगा, यदि आपको किसी प्रकार की समस्या हैं तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं आपकी समस्या का समाधान तुरंत किया जाएगा।

आपसे विनम्र अनुरोध हैं कि अगर आपके पास 3 सेकण्ड का समय है तो इस आर्टिकल को अपने सोशल मीडिया में शेयर करना न भूले ताकि अन्य लोगो की भी इस आर्टिकल से हेल्प हो सके।

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.